logo
  • नया

भाषा प्रौद्योगिकी और प्रयोजनमूलक हिन्दी

भाषा विज्ञान
Hardbound
Hindi
9789355188502
1st
2023
336
If You are Pathak Manch Member ?

आज हिन्दी विश्व के कोटि-कोटि जन-गण का कण्ठस्वर है उनकी पहचान है, सांस्कृतिक अस्मिता का मुखर स्वर है, अन्तरराष्ट्रीय सम्बन्धों का सेतु है। सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में हिन्दी अपने प्रयोजनमूलक स्वरूप की उपादेयता को स्पष्ट कर रही है। शासकीय एवं प्रशासनिक कार्यों से लेकर व्यावसायिक एवं औद्योगिक क्षेत्रों तक मीडिया के बहुविध प्रयोगों तक, कम्प्यूटर से लेकर दृश्य-श्रव्य माध्यमों के विविध क्षेत्रों तक प्रयोजनमूलक हिन्दी अपना विस्तार दर्शा रही है। वैश्वीकरण के इस युग में इसकी व्याप्ति और भी विस्तृत हो रही है। इसके चलते बाज़ारवाद बढ़ा। आज वह व्यापार-वाणिज्य की भाषा बन गयी । हिन्दी के अख़बार और चैनल अंग्रेज़ी के अख़बार और चैनल के साथ क़दम से क़दम मिलाकर आगे बढ़ रहे हैं। रोज़गार की सम्भावनाओं को लेकर प्रयोजनमूलक हिन्दी बहुउपयोगी भाषा बन गयी है । प्रयोजनमूलक हिन्दी को विस्तृत आयाम प्रदान करने में अनुवाद का योगदान महत्त्वपूर्ण है। मशीनी अनुवाद यानी कम्प्यूटर साधित अनुवाद की भी आज खूब चर्चा हो रही है ।

आज के प्रौद्योगिक युग में हिन्दी भाषा अपनी क्षमता एवं व्याप्ति के अनुसार प्रौद्योगिक विषयों के रूप धारण कर विकास के नये सोपानों को पार कर रही है। इस पुस्तक में प्रयोजनमूलक हिन्दी की उपादेयता को तीन खण्डों में विभाजित कर विश्लेषित किया गया है। कुल मिलाकर इसमें 26 आलेख शामिल हैं। प्रथम खण्ड ख़ासकर भाषा के प्रौद्योगिकीपरक पहलू से जुड़ा हुआ है। दूसरे खण्ड में हिन्दी के मीडिया से जुड़े स्वरूप का विश्लेषण करने का प्रयास लेखकों ने किया है और तीसरा खण्ड अनुवाद, राजभाषा तथा हिन्दी के अन्य प्रयोजनमूलक स्वरूप से सम्बन्धित है। मुझे पूरा विश्वास है कि सुधी पाठक इसका स्वागत करेंगे।

-प्रो. (डॉ.) सुधा बालकृष्णन

डॉ प्रमोद कोवप्रत (Dr. Pramod Kovaprath)

डॉ. प्रमोद कोवप्रत जन्म : 1973 केरल के कण्णूर ज़िले के इरिणाव गाँव में।शैक्षिक योग्यताएँ : एम.ए. हिन्दी, एम.ए.अंग्रेज़ी, नेट (यू.जी.सी.), बी.एड., अनुवाद में स्नातकोत्तर डिप्लोमा, पीएच.डी. हिन्दी ।प्रका

show more details..

सुधा बालकृष्णन (Sudha Balakrishnan)

प्रो. (डॉ.) सुधा बालकृष्णन केरल केन्द्रीय विश्वविद्यालय, हिन्दी एवं तुलनात्मक साहित्य विभाग, कासरगोड में विभागाध्यक्ष पद से सेवानिवृत्त । अन्तरराष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय सम्मान से सम्मानित ।

show more details..

मेरा आंकलन

रेटिंग जोड़ने/संपादित करने के लिए लॉग इन करें

आपको एक समीक्षा देने के लिए उत्पाद खरीदना होगा

सभी रेटिंग


अभी तक कोई रेटिंग नहीं

संबंधित पुस्तकें