logo
  • नया

आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेंस : एक अध्ययन

स्व-आत्म सुधार
Hardbound
Hindi
9789357755573
1st
2024
144
If You are Pathak Manch Member ?

आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेंस : एक अध्ययन - मानव जीवन को एक जटिल भविष्य की तरफ़ ले जाने वाली कृत्रिम बुद्धिमत्ता, विशेषकर मशीन इंटेलिजेंस के माध्यम से अन्तर्निहित इन्फेरेंस इंजनों से युक्त विशेषज्ञ प्रणालियों द्वारा जनित तीव्र एवं अप्रतिरोध्य परिवर्तनों ने मानव बुद्धि की अनन्त क्षमता को उजागर किया है। एआई (कृत्रिम बुद्धिमत्ता) द्वारा प्रदत्त शक्तियों से अधिकतर अनभिज्ञ लोग मूक बने हुए हैं, और जानकार लोग कुछ हद तक विवरणों से जूझ रहे हैं। विशेषज्ञों के साथ-साथ समाज के संरक्षक एआई के सर्वव्यापी अनुप्रयोगों से सम्बन्धित नैतिक मुद्दों को लेकर थोड़े चिन्तित हैं। यह पुस्तक एआई सम्बन्धी विचारों और अवधारणाओं में स्पष्टता, समझ को आसान बनाने के लिए प्रस्तुति में सरलता और सटीकता के मानदण्डों के कारण उपरोक्त तीनों वर्गों के पाठकों की आवश्यकता को पूरा करने का प्रयास करती है। वास्तव में, विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में विकास का सन्देश देने के इस सामयिक उद्यम के लिए लेखक प्रशंसा के पात्र हैं, जिसे बड़े पैमाने पर पाठकों द्वारा पसन्द किया जायेगा। ज्ञान की खोज को अधिक बढ़ावा दिया जाना चाहिए और विषय के सम्पूर्ण कवरेज के लिए कोई दावा नहीं होना चाहिए, यही बात डॉ. शर्मा के मन में है, और यह पुस्तक इसका प्रमाण।

-प्रो. एस.पी. मुखर्जी

सेंटेनरी प्रोफ़ेसर

सांख्यिकी विभाग, कलकत्ता विश्वविद्यालय

डॉ सुनील कुमार शर्मा (Dr. Sunil Kumar Sharma )

डॉ. सुनील कुमार शर्मा एक लोक सेवक, शोधकर्ता और लेखक हैं। उन्हें भारतीय रेलवे में, रखरखाव प्रबन्धन, संचालन, प्रोक्योरमेंट, सेवा एवं कूटनीतिक प्रबन्धन, पब्लिक सेक्टर गवर्नेस, मानव संसाधन और आपद

show more details..

मेरा आंकलन

रेटिंग जोड़ने/संपादित करने के लिए लॉग इन करें

आपको एक समीक्षा देने के लिए उत्पाद खरीदना होगा

सभी रेटिंग


अभी तक कोई रेटिंग नहीं

संबंधित पुस्तकें