logo

शूद्र तपस्वी एवं अन्य दो नाटक

Paperback
Hindi
9789357758581
3rd
2024
102
If You are Pathak Manch Member ?

शूद्र तपस्वी एवं अन्य दो नाटक - 'शूद्र तपस्वी' ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित कन्नड़ साहित्य-शिल्पी कु.वें. पुट्टप्पा (कुवेंपु) की नाट्य-कृति हैं। इसमें उनके तीन नाटक—'शूद्र तपस्वी', 'श्मशान कुरुक्षेत्र' और 'अँगूठे के बदले...' सम्मिलित हैं। तीनों नाटकों का कथानक और उनके पात्र यद्यपि पौराणिक हैं, लेकिन कुवेंपु जैसे सशक्त कवि-नाटककार के तर्कपूर्ण एवं मनोवैज्ञानिक कल्पना-वैचित्र्य से तीनों रचनाएँ समकालीन जीवन-मूल्यों का साक्षात्कार कराती हैं। कहना होगा कि तीनों नाटकों के प्रमुख पात्र निश्चित ही किसी नीति, धर्म या संकल्प को लेकर चलते हैं, फिर भी वे कहीं-न-कहीं विवश हैं उस कार्य को करने के लिए, जो उन्हें नहीं करना चाहिए था ।... हिन्दी भाषा में महाकवि कुवेंपु की यह नाट्य-कृति पढ़ने के साथ ही मंच पर प्रस्तुत होकर भी सुख देगी। प्रस्तुत है कृति का यह नया संस्करण।

बी. आर. नारायण (B. R. Narayan)

जन्म: 1928, बैंगलूरु में। शिक्षा: दिल्ली विश्व विद्यालय से हिन्दी में एम.ए.। मातृभाषा कन्नड़। सरकारी नौकरी से सेवा-निवृत्त। कन्नड़ के अधिकतर शीर्ष लेखकों का हिन्दी पाठकों से परिचय करवाने में सक

show more details..

के. वी. पुट्टप्पा (K.V. Puttappa )

कु.वें. पुट्टप्पा कर्नाटक के शिवमोगा ज़िले के एक छोटे से गाँव में सन् 1904 में जनमे डॉ. कु.वें. पुट्टप्पा (काव्यनाम 'कुवेंपु') का आधुनिक कन्नड़ साहित्य-शिल्पियों में सर्वोच्च स्थान है। मैसूर के रा

show more details..

मेरा आंकलन

रेटिंग जोड़ने/संपादित करने के लिए लॉग इन करें

आपको एक समीक्षा देने के लिए उत्पाद खरीदना होगा

सभी रेटिंग


अभी तक कोई रेटिंग नहीं

संबंधित पुस्तकें